Email क्या है? Email address kya hota hai.

Spread the love

Email ka matlab kya hota hai? Email Address kya hota hai?

नमस्कार दोस्तों आप सभी को आपके वेबसाइट www.techreviewpad.com में स्वागत करता हूँ. दोस्तों आज के इस article में हम लोग Email kya hota hai, Email address kya hota hai, Email का इतिशस, email के फायदे और नुकसान और Top 5 Free Email Service Provider के बारे में विस्तार में बातें करेंगे.

दोस्तों अगर आप अभी के समय में internet का उपयोग कर रहे है तो आप Email का उपयोग भी जरुर करते होंगे लेकिन दोस्तों अगर आपको email के बारे में कोई भी जानकारी नहीं है तो भी कोई बात नहीं क्यों की आपको यहाँ पर Email से संबंधित सारी जानकारी मिल जाएगी. अब बस इस article को ध्यान से पढ़ ले.

 

Email kya hota hai? Email address kya hota hai.

E-Mail जिसका पूरा नाम Electronic Mail है. यह एक प्रकार का electronic massage होता है जिसमे हम किसी भी file, image या text को Insert कर सकते है. और इस digital massage को हम किसी भी आदमी या company को भेज सकते है. दोस्तों मुझे लगता है की आपको email kya hota hai  के बारे में संछेप में पता चल गया है.

अब हम इसे थोड़ी विस्तार में समझेंगे और यह भी जानेंगे की Email address kya hota hai और Email kya hota hai

Email kya hota hai? What is Email in Hindi?

दोस्तों जैसा की मेने पहले ही आप सभी को बता रखा है की इसका full form Electronic Mail है. यह एक प्रकार से Digital Massage को भेजने और प्राप्त करने का काम करता है. अगर Simple भाषा में बात करे तो Email एक वो साधन है जिसकी मदद से digital तरीके से एक user दुसरे से comunicate करता है.

Email में हम text से साथ-साथ images, और अन्य files भी attachment के साथ भेजी जा सकती है. हम whatsapp में भी ये सारे काम कर सकते है मगर Email का उपयोग काम को ज्यादा profesional तरीके से करने के लिए करते है.

इसी लिए Emails का उपयोग अभी के समय में ज्यादातर Organisations या Company में अपने संदेश को एक user से दुसरे user तक पहुचाने के लिए किया जाता है. एक email भेजने के लिए में एक Email software (जैसे:- Gmail), Email Address, Device और एक internet connection की जरुरत होती है. 

अब आप यह सोच रहे होंगे की Email address kya hota hai तो आप post को आगे पढ़ते रहे मेने यह बता रखा है की Email address ka matlab kya hota hai.

Email एक साधारण पत्र से किस प्रकार अलग है? 

दोस्तों मुझे आशा है की आपको email ka matlab kya hota hai के बारे में जानकारी मिल चुकी होगी क्यों की email भी एक प्रकार से पत्र की तरह ही होता है 

साधारण पत्र को लिखते है तो उसमे हमें sender के नाम और address, Receiver के नाम, address और Massage या Body की जरुरत  थी. और जब हम इस पत्र को लिख लेते  थे तो हमें उसे latter box में डालना होता था फिर वो कुछ दिन के बाद sender तक पहुँचता था.

Email में हमें Receiver के Email Address और Body की जरुरत पढ़ती है. और जब हम email को लिख लेते है तो हम Send पर click करते है तो हमारा email कुछ ही second में reciver तक पहुँच जाता है. 

जैसे कोई पत्र को लिखते समय हमें Pen और paper की जरुरत होती है ठीक उसी प्रकार email में हमें एक laptop या Mobile और एक internet connection की जरुरत होती है. 

Email Address kya hota hai? What is Email Address in HIndi? 

दोस्तों इसमें हम Email Address के साथ-साथ Email address के भाग के बारे में भी जानेंगे:- 

हर एक email address किसी एक email account के लिए एक unique identity का काम करती है. जिसके प्रयोग से हम किसी भी receiver को mail भेज सकते है और किसी भी किसी sender से mail प्राप्त भी कर सकते है.

जैसे की मेने आपको बता रखा है की हम जब भी कोई पत्र  भेजते है तो उसमे दोनों (sender और receiver) के पास अपने पते का होना जरूरी होता है ठीक उसी प्रकार E-Mail Send या receive करने के लिए दोनों के पास Email Address का होना जरूरी होता है. Email Address एक प्रकार से बोला जाये तो यह पते का काम करता है जिसका प्रयोग करके हम अपने Massage को सफलता पूर्वक भेज या प्राप्त कर सकते है.

सभी E-mail address के मुख्यता दो भाग होते है:-

  1. User Name
  2. Domain Name

कोई भी email address मुख्यता दो भागों से बना होता है पहले भाग में Username होता है. फिर at the rate (@) Symbol का प्रयोग होता है और फिर Domain name का प्रयोग होता है.

जैसे :- techreviewpad@gmail.com 

जिसमें techreviewpad एक username है और gmail.com एक Domain name है.

जब भी कोई Email के द्वारा संदेश भेजा जाता है तो आमतौर पर वह SMTP protocol के माध्यम से जाता है. जिसमे भेजने वाले का email address का mail server किसी receive करने वाले के email address के mail server की जाँच करता है और जब receive करने वाले के user name और Domain name की पुष्टि हो जाती है तो वह mail पहुँच जाता है.

History of Email. Email का इतिहाश

अगर आप email kya hota hai और Email address kya hota hai जान गए होंगे तो अभी email history के बारे में भी जान लेते है:-

  • ऐसा माना जाता है की सबसे पहला email Type जिसे 1965 में मैसाचुसेट्स institute of technology में किया गया था. इसमें सिर्फ एक massage को किसी अन्य के file directory के उस जगह पर रखा गया था जहाँ पर की वो log in करते वक़्त देख सकता है. इस System को Mailbox के नाम से जाना जाता था.
  • इसके बाद एक और एक प्रोग्राम किये गए जहाँ email message को same कंप्यूटर में भेजा गया था. इस प्रोग्राम का नाम SNDMSG रखा गया.
  • Internet Networking शुरू होने से पहले तक email का प्रयोग same कंप्यूटर पर different user तक massage को पहुँचाने के लिए होता था.
  • Ray Tomlinson को पहला morden email भेजने का श्रे जाता है. जब वो ARPANET creator के रूप में काम कर रहे थे तो Tomlinson एक कंप्यूटर से दुसरे कंप्यूटर के sending massage को denote करने के लिए @ symbol का उपयोग किया करते थे. जो अभी के समय में हर एक email address में @ का उपयोग होता है.
  • यह system बोहोत popular हो गया है और अभी के समय में लगभग सभी लोगों के पास अपना email address या email ID होना जरुरी है. क्यों की यह एक Digital Identity ban चुकी है.

दोस्तों अभी के समय में सभी के पास  Digital Identity यानि Email ID का होना अति आवश्यक है. और आप भी अपनी digital Identity बनाना चाहते हो तो आप निचे पढ़ सकते हो.

जरुर पढ़े :- Email ID कैसे बनाएँ? Step by step guide.

Advantages and Disadvantages of Email:- 

मुझे लगता है की आप सभी को अभी तक Email Address kya hota hai, Email kya hota hai, History of Email के बारे में समझ आ चूका होगा अब हम email के कुछ फायदे और नुकसान के बारे में जान लेते है:-

E-mail के लाभ. Advantages of email:-

  • Email की मदद से आप अपने message को sender तक एक physical mail के मुकाबले काफी तेजी से पंहुचा सकते हो. Email के द्वारा massage को  कुछ second में ही पहुँचाया जाता है.
  • पहुंचे के तुरंत बाद ही आपको उसका जबाब भी मिल जाता है जो कि पुराने समय में impossible सा था. 
  • इसकी मदद से आप image या फिर किसी भी file के attachment भेज सकते हो. जो की एक physical mail के द्वारा संभव नहीं हो पता है.
  • Email Software की मदद से हम आप अपने सारे conversation को के record को एक proof के तौर पर रख सकते है. इसी करण से email का उपयोग सभी organisation में conversation के लिए किया जाता है.
  • यह एक सरल और सस्ता method होता है जिसमे आपको कागज, pen और डाक खर्चा नहीं देना पढता.
  • Email में आपको  Size के चिंता करने की कोई जरुरत नहीं होती आप कितने भी pages के साथ-साथ आप कुछ attachment भी भेज सकते हो पर physical mail में आप कुछ ही pages तक लिख सकते हो.
  • Email में कोई भी conversation के खोने का डर नही होता.
  • Electronic Mails में security बोहोत ज्यादा होती है. आप इसे physical mail की अपेक्षा लाख गुना safe मान सकते हो क्यों की इसमें आप जब किसी को mail send करते हो तो आपका mail बहुत जल्दी और safely पहुँच जाता है. और सारे mails store भी हो जाते है जिसे सभी उपस्थित mails भी safe रहते है.

E-Mail ले हानि. Disadvantages of E-Mail:-

  • Emails के जरिए ही बोहोत सारे Fishing जैसे cyber attack करवाए जाते है. जिसमे आपको emails में ही attachment file भेजी जाती है और जब आप उन files को click करते हो तो आपका कंप्यूटर या मोबाइल का दुरोपियोग किया जाता है.
  • Email के लिए आपको Internet Service का होना अनिवार्य होता है. आप internet के बिना Email की सेवा का उपयोग नहीं कर सकते.
  • Email attachment में आप एक Limited size और प्रकार के ही files को भेजा जा सकता है.
  • आपके email address पर Spam emails बोहोत ज्यादा आती है.
  • अगर आपको email के बारे में सही जानकारी नहीं है तो आपके लिए email का उपयोग करना थोडा मुश्किल हो सकता है.
 

Top 5 Free Email Service Provider जिनसे आप अपने email address बना सकते हो:-

1) Gmail :- अगर आप एक internet user है तो आप जरुर gamil के बारे तो जानते ही होंगे.यह google का ही एक application है जो free में emails की service provide करता है. इसकी शुरुआत 2004 को हुई थी. Gmail की service को 57 भाषाओ में उपलब्ध है.

2) Yahoo:-  yahoo भी एक बोहोत अच्छी email service provide करवाने वाली company है जो gamil के बाद दुसरे number पर आने वाली सबसे बड़ी email provider company है. इस company की शुरुआत 1957 में हुई थी.

3) Outlook:- Outlook एक microsoft के द्वारा दी जाने वाली email service provide करने वाली company है. जिसका उपयोग मुख्यता organisations में professional या business email में किया जाता  है. Outlook में 106 भाषाओ का support है.

4) Rediffmail:- यह भी एक बोहोत ही popular mail की service देने वाली company है. इसका भी उपयोग ज्यादातर business mail के लिए किया जाता है हालाँकि इसका उपयोग भी सभी आम आदमी कर सकता है.

5) Mail.com:- यह भी काफी भरोसेमंद email की services प्रदान करती है. और अभी यह एंड्राइड , IOS windows सभी पे उपलब्ध है.

Conclusion:-

दोस्तों मुझे यह आशा है की आप सभी को मेरे द्वारा लिखा गया यह article Email Address kya hota hai, Email kya hota hai, Email एक साधारण पत्र से किस प्रकार अलग है, History of Email, Email के फायदे और नुकसान, और Top 5 Free Email Service Provider पसंद आया होगा अगर आपको कोई सवाल या सुझाव हो तो आप निचे दिए गए comment section में comment करें या आप हामारे official mail ID techreviewpad@gmail.com पर mail कर सकते है.

अगर आप सभी को मेरे द्वारा लिखा गया यह article ईमेल एड्रेस क्या होता है पसंद आया तो आप इस article को share जरुर करें और ऐसे ही technology से related जानकारी पाने के लिए Tech Review Pad को SUBSCRIBE जरुर करें. Thank You!!!!!

Spread the love

Leave a Comment