Printer Kya Hai? Types of Printer in Hindi.

Spread the love

 Printer kya hai? Types of printer in Hindi.

 

नमस्कार दोस्तों आप सभी को आपके वेबसाइट www.techreviewpad.com मैं स्वागत है.  दोस्तों आज इस article में हम लोग Printer kya hai? How many types of Printer in Hindi. और History of printer in Hindi के बारे में विस्तार में बाते करेंगे. अगर आपका इस article में आने का उद्देश्य printer के बारे में जानना है तो अब बिलकुल सही जगह पर आए हो!

 

Printer Kya Hai? Types of Printer in Hindi.



दोस्तों अभी के इस आधुनिक समय में तो आप लोगों ने तो Computer का उपयोग किया ही होगा और अगर अपने कंप्यूटर के बारे में थोडा भी जानकारी रखते हो तो अपने कंप्यूटर में input और output device के बारे में तो जरुर पढ़ा होगा और उसी output device में एक Device आता है जिसका नाम है Printer. 

अभी के समय में सभी लोग printer का use तो daily life में करते ही है. अगर कोई student है तो अपने Notes को print करवा लेते है, अगर कोई Jobseeker है तो वो अपना resume print करवाते है. अगर कोई किसी भी sector में job कर रहा है तो उसे doccuments को print करना पढ़ सकता है. इसी प्रकार से हर एक आदमी को अभी के समय में Printer की जरूरत पड़ती ही है.  अगर आप डेली लाइफ में प्रिंटर का यूज़ उतना ही कर रहे  हो तो क्या आप जानते हो कि  प्रिंटर का इतिहास क्या है?( History of Printer in hindi) ,  प्रिंटर की परिभाषा क्या है? (What is printer in HIndi?), Printer के प्रकार कौन कौन से है? (Types of Printer in Hindi)

तो दोस्तों आज के इस article में हमलोग इन्ही सभी Topic के बारे में विस्तार में बाते करने वाले है. तो दोस्तों चलिए इस article को शुरू करते है :-

What is Printer in Hindi? Printer kya hai?

Printer एक वह Hardware output device है जो कंप्यूटर या अन्य किसी system से Digital data को इनपुट की तरह लेती है और उसे Paper पर print करके output के रूप में हमें उपलब्ध कराता है.  यह डिजिटल  डाटा text, Image या फिर किसी अन्य format में हो सकती है. 

अगर हम एक उदाहरण की बात करें  जैसे:- हमें अपना Resume  प्रिंट कराना है. तो पहले तो हमारा resume तो text format में Soft copy में होता है पर जब हम उस Soft copy text format को Printer को इनपुट की तरह देते है तो वो उसे printer हमे उसी same text formet को Hard Copy में उपलब्ध करवाता है.

 

जरुर पढ़े:- Computer क्या है? Computer Generation in Hindi.

 

जरुर पढ़े:- Computer के प्रकार ?

Printer की परिभाषा क्या है? What is the Definition of a Printer?

Printer एक ऐसा Hardware Output Device है जो Soft copy को Hard Copy के रूप में परिवर्तित करता है. जिसके मदद से हम कंप्यूटर में दिख रहे text या image की प्रतिलिपि को कागज में देख पाते है.

Printer काम कैसे करता है? How Printer works?

 

दोस्तों आप सभी को What is printer in Hindi (Printer kya hai) समझ आ चुका होगा अब दोस्तों हमलोग आगे बढ़ते है और Printer काम कैसे करता है? के बारे में जानते है. तो दोस्तों चलिए शुरू करते है:-

Printer kya hai जानने के बाद अब हमलोग यह जान लेते है Printer काम कैसे करता है(How Printer works) को step by step जानते है:-

  • सबसे पहले हमें printer को कोई एक Computer या कई और system के साथ connect करना होता है.
  • जब यह successfully connect हो जाता है तो हम computer memory में उपस्थित कोई भी digital data जो text या image format में हो जिसे Soft copy कहा जाता है. को printer को भेजा जाता है.
  • Printer उस Soft Copy को इनपुट की तरह लेता है फिर वो उस image या text formet के digital data को अपने memory में save कर लेता है. 
  • फिर printer ने जिस digital data को अपने memory में save किया था उस data को धीरे-धीरे Hard Copy के format में एक कागज पर print कर देता. 

 

Types of Printer in Hindi. Printer के प्रकार:-

दोस्तों आप सभी को What is printer in Hindi (Printer kya hai) समझ आ चुका होगा अब दोस्तों हमलोग आगे बढ़ते है और Types of Printer in Hindi के बारे में जानते है. तो दोस्तों चलिए शुरू करते है:-

Printer को उसके काम करने की विधि के आधार पर Printer को दो मुख्य भागों में बंटा गया है :- 

  1. Impact Printer 
  2. Non-Impact Printer 

I) Impact Printer:- 

Impact printer उन प्रिंटरो को कहा जाता है जो print करते समय अपने छाप छोड़ते है. इन प्रिंटरो में एक हैमर या print head का इस्तेमाल किया जाता है जिसमे latter लिखे होते है जब भी इसमें print करना होता है तो यह उस print head को paper पर Strike(टकराया) किया जाता है जिससे उस print head पर लिखे latter उस कागज पर अंकित हो जाता है. जैसे :- अपने Typewriter तो देखा ही होगा उसमे भी type करने के लिए ये ही तकनीकी का इस्तेमाल कर लिया जाता है.

जरुर पढ़े:- Computer का Full Form in Hindi.

 

जरुर पढ़े:- OK का Full Form in Hindi.

Types of Impact Printer in Hindi. Impact printer के प्रकार:-

Impact printer को भी दो भागों में  बांटा गया है :- 

i) Character Printer

  1.  Dot Matrix Printer (DMP)
  2.  Daisy Wheel Printer (DWP)

ii) Line Printer

  1. Chain Printer
  2. Band Printer
  3. Drum Printer

दोस्तों अब हमलोग इन सभी Types of Impact Printer के बारे में one by one विस्तार में समझेंगे:-

i) Character Printer 

Character Printer वो printer होते है जिनमे printing speed को measure करने के लिए Character Per Second का इस्तेमाल किया जाता था. इन प्रिंटरो में एक समय में एक ही character या letter या number ही print किया जा सकता थे और इनकी typeing speed 60 से 600 character per second हो सकते थे जो की बोहोत ज्यादा slow था और इन प्रिंटरो को अभी उपयोग में नहीं लाया जाता है.

Character printer मुख्यता दो प्रकार के होते है :- 

  1. Dot Matrix Printer (DMP)
  2. Daisy Wheel Printer (DWP)

1) Dot Matrix Printer in Hindi / Impact Matrix Printer

 
Printer Kya Hai? Types of Printer in Hindi.
Dot Matrix Printer

 

Dot Matrix Printer (DMP) वह printer है जो कोई भी character को Matrix of Dots के माध्यम से print कर पाते थे. इस printer के print head में बहुत से pins का एक समूह मौजूद होता है. और इन समूहों में 7, 9, 14, 18, और 24 के समूह में Pins मौजूद होते थे. एक pin के माध्यम से केवल एक dot को ही print कर पाते थे. और इसमें एक पुरे character या letter को print करने में multiple pins का इस्तेमाल होता था. जब भी print करना होता था तो print head जिसमे multiple pins मौजूद होते थे ink ribbon के संपर्क में आते थे तो सभी pins की मदद से वो एक letter या character print होता था. Dot matrix printer का काम करने का सिधान्त बोहोत हद तक Typewriter की तरह होता था लेकिन इनमे सिर्फ अंतर यह था की ये printer बोहोत सारे character और letter के साथ-साथ Graphic को भी print कर पाते थे.

लेकिन यह printer की printing quality इतनी अच्छी नहीं होती थी. और यह printer बहुत ज्यादा costly होता था.

यह printer Carbon Copying की सहायता से एक समय में Multiple copy print कर सकता है इसी कारण Dot Matrix printer का उपयोग वंहा होता था जहाँ multiple copy की जरुरत पड़ती थी.

2) Daisy Wheel Printer (DWP) in Hindi

 
Printer Kya Hai? Types of Printer in Hindi.
Daisy Wheel

 

Daisy Wheel Printer (DWP) वो इम्पेक्ट printer है जिसमें एक प्रकार के गोलाकार metal या plastic के Wheel का उपयोग किया जाता था जिस wheel में Spoke लगे होते थे और हर एक spoke के end में एक Letter Number या Character उभरे हुए होते थे और उसके साथ एक hammer लगा होता था जब भी इस printer में कोई एक letter को print करने की जरुरत पढ़ती थी तो printer में उपस्थित wheel में से एक spoke को hammer के द्वारा push किया जाता था और जैसे ही वो spoke जाकर ink Ribbonऔर paper के संपर्क में आता था तो वो character उस  Paper पर print हो जाता था. 

इसका नाम Daisy Wheel इसीलिए पढ़ा क्योंकि यह बिलकुल एक Daisy Flowler( गुलबहार के फुल) की तरह दीखता था.

Daisy Wheel Printer  में printing quality  Dot Matrix के printing quality की तुलना में अच्छी थी पर printing speed बोहोत slow था इसमें भी speed को measure करने के लिए character per second 

का उपयोग किया जाता है.

 

जरुर पढ़े:-Processor क्या है? Processor में Clock Speed क्या है?

ii) Line Printer 

Line Printer से पहले के सारे printers में एक एक character करके छापा जाता था जो एक बोहोत ही slow process हुआ करता था. इनमे केवल 60 से 600 Character per second  छापा जा सकता था. पर धीरे धीरे सबकुछ एडवांस हो चूका था और तभी बोहोत से fast processing computers भी आ चुके थे और इनके लिए fast printing Printers की भी जरुरत थी तो इसी वजह से Line printer का invent किया गया. Line printer एक बार में एक character के वजह एक पुरे लाइन को print कर सकता था. Line printer की speed लगभग 300 से 3000 Line Per Minute था जो उस समय बोहोत ज्यादा माना जाता था. इसमें printing speed को Line Per min में measure किया जाता था.

Line Printer को भी तीन और भागो में बंटा गया है :- 

 

जरुर पढ़े:-Best Earphones with Mic under 500rs.

 

जरुर पढ़े:-Best Laptops under 30000rs. for any Students, Office Workers

  1. Chain Printer
  2. Band Printer
  3. Drum Printer

1) Chain Printer in Hindi 

Chain Printer में एक Chain नामक संरचना होती है. और Chain में उपस्थित सभी Link या कड़ी में एक एक latter या number अंकित किये हुए होते है. इन कड़ी को एक श्रृंखला में एक साथ जोड़कर उसके मुद्रण  के रूप में उपयोग किया जाता है. यह chain एक Hammer के चारो और हमेशा घूमते रहती थी और जैसे ही इच्छित Line print column के सामने होता था ठीक वैसे ही Hammer से Ribbon के द्वारा paper में print कर दिया जाता है. Chain printer का उपयोग 1980 से भी पहले किया जाता था. 

इस printer में एक बार में एक line को ही print किया जा सकता था.

2) Band Printer 

Band Printer भी chain printer के principle पर ही काम करता था. बस इसमें chain के स्थान पर एक band का इस्तेमाल किया जाता था और उसी Band में ही सारे Latters और Numbers लिखे होते थे. और इसमें भी paper पर print करने के लिए hammer का use होता था और इसमें भी एक बार में एक लाइन type कर सकते थे. यह chain printer के बाद में invent किया गया था.

3) Drum Printer in Hindi

Drum Printer में printing element के रूप में Drum लगा होता है और इस Drum में हर एक  latter और number का एक समूह अंकित होता है. ऐसे ही A से Z तक और 1 से 0 तक सारे character अपने अपने समूह में मौजूद होते थे. और जब print करना होता है तो Drum घूमता था और जिस भी character को print करना होता था तो Drum में मौजूद hammer के द्वारा उस character को push कर दिया जाता था जिससे उसमे उभरा latter या number ribbon के साथ paper के संपर्क में आता था और हमे रिबिन में लगा carbon या ink के वजह से वह latter या number paper पे छप जाता है.  

Drum printer भी एक rotation में एक लाइन लिखने में सक्षम हो पता है.

II) Non-Impact Printer

दोस्तों आप सभी को What is printer in Hindi (Printer kya hai), Printer काम कैसे करता है, Types of Printer in Hindi में आपको Impact printer के बारे में समझ आ चुका होगा अब दोस्तों हमलोग आगे बढ़ते है और Non Impact Printer के बारे में जानते है. तो दोस्तों चलिए शुरू करते है:-

Non Impact printer उन प्रिंटरो को कहा जाता है जो print करते समय अपने छाप नहीं छोड़ते है. Non Impact Printer में print करने के लिए print head को paper के साथ संपर्क में आने की जरुरत नहीं पढ़ती है. क्यों की Non Impact Printers में printing के लिए Ink Jet, Electrostatic Chemical या Laser तकनीकी का इस्तेमाल किया जाता है और इसी कारण इन  प्रिंटरो की मदद से print head को paper के साथ संपर्क में नहीं आने पर भी print किया जा सकता है.

Types of Non-Impact Printer in Hindi:-

  1. Laser Printer 
  2. Thermal Printer
  3. Inkjet Printer
  4. Portable Printer
  5. Photo Printer
  6. Multi-Functional Printer

1) What is a Laser Printer in Hindi? Laser Printer Kya hai?

 
Printer Kya Hai? Types of Printer in Hindi.
Laser Printer

 

Laser Printer अभी के समय में एक बोहोत ही ज्यादा लोकप्रिय printer है. जिसमे print करने के लिए एक Laser technology का प्रयोग किया जाता है. जब कोई भी Documents को system के माध्यम से printer पर भेजा जाता है तो एक Laser beam का उपयोग करके salenium लेपित ड्रम पर उस Document का copy अंकित करता है और जब वह ड्रम को electrically charge हो जाता है तो उसे Tonner और Ink के द्वारा उसे Paper पर अंकित कर दिया जाता है. Laser printer , Xerox Machine के working principle पर काम करता है.

Laser Printer में Ink या Toner के रूप में Dry Powder ( सूखे पाउडर) ink का प्रयोग किया जाता है.

Laser printer की Shuruat 1975 में IBM कंपनी के द्वारा किया गया था और बाद में 1984 में HP के द्वारा laser printer को और भी Modify कर दिया था. और इन प्रिंटरो का उपयोग पहले ज्यादातर Mainframe कंप्यूटर के साथ किया जाता था. 

इन प्रिंटरो में भी Dots के माध्यम से ही print किया जाता है. परन्तु Dots इतने ज्यादा छोटे और पास पास मौजूद होते है की हमें पता ही नहीं चलता इसी वजह से इन प्रिंटरो के की printing quality बोहोत ज्यादा अच्छी होती है. Laser printer 250 से 650 Dot Per Inch(DPI) तक print कर सकता है. येही वजह है की इन प्रिंटरो में हमें अच्छे quality के Graphics और Text मिल जाता है.

Laser Printer की विशेषताए :-

  • Laser printer में Graphics और Text दोनों को ही छापा जा सकता है और इसकी quality भी अच्छी होती है.
  • Laser printer की मदद से हम colour printing भी कर सकते है.
  • Dry ink का use होता है.
  • Printing speed fast होती है. यह एक समय में एक पुरे paper को print करता है.
  • इसमें सुखा ink का पाउडर ( Dry ink पाउडर) का use होता है.

2) Thermal printer

 
Printer Kya Hai? Types of Printer in Hindi.
Thermal Printer

 

Thermal Printer print करने के लिए Thermal यानि Heat technology का उपयोग करता है.जिसमे कोई भी character , image या letter को print करने के लिए heat का उपयोग किया जाता है. और इसका उपयोग मुख्यता :- Bank, ATM, Grocery Shop, Bus में किया जाता है.

इन प्रिंटरो से print किये गए words ज्यादा देर तक नहीं रहते वो जल्दी ही मिट जाते है.

3) What is the Inkjet printer in Hindi? Inkjet printer kya hai?

Inkjet Printer में print करने के लिए मुख्य रूप से एक Jet का उपयोग किया जाता  है. जब भी किसी system के द्वारा इस printer को print करने का command दिया जाता है तो वह jet के nozzle के द्वारा paper पे ink का sprey करता है जिससे doccument print हो जाता है. इस printing technique में कोई dot नहीं होने की वजह से इसकी printing quality बहुत ज्यादा अच्छी और साफ होती है.

Inkjet colour printer में jet द्वारा Ink spray के लिए चार nozzle दिए होते है और इसमें चार रंग लाल, पिला, कला और नीला का उपयोग होता है और इसी चार रंगों को मिलकर यह printer सारे अलग-अलग रंग बना लेता है.

4) Portable Printer

Portable Printer बोहोत ही कम वजन वाले छोटे printer होते है जिसे अपने साथ ले जाया जा सकता है जैसे:- Thermal printer, बोहोत सारे थर्मल printer को carry किया जा सकता है. और यह आकर में भी बोहोत ज्यादा छोटे होते है. कुछ photo printer भी portable होते है.

5) Photo Printer

Photo Printer वो printer होते है जिसका उपयोग मुख्यता high quality photo को print करना होता है. Photo printer मुख्यता Coloured Inkjet printer ही होता है क्योंकि इस में भी print करने के लिए jet का प्रयोग किया जाता है और इसमें भी multiple nozzle लगे होते है जिसकी वजह से High Quality Image को print कर पाती है. इन प्रिंटरो में Card reader भी दिए जाते है जिससे इसे किसी भी system से connect किये बिना ही print किया जा सकता है.

6) Multi-Functional Printer

 
Printer Kya Hai? Types of Printer in Hindi.
Multi-Functional Printer

 

आपको नाम से ही समझ आ रहा होगा होगा की यह printer printing के अलावा भी बोहोत सारे और भी काम कर सकता है जैसे :- किसी Doccumet का photocopy निकलना , Scan करना अदि जैसे काम कर सकता है . multi functional printer दुसरे सामान्य प्रिंटरो के मुकाबले ज्यादा महंगे होते है. और इसका उपयोग घरेलु या ऑफिस के कामो को करने में उपयोग किया जाता है.

History Of Printer In Hindi. Printer का इतिहाश.

दोस्तों आप सभी को What is printer in Hindi (Printer kya hai), Printer काम कैसे करता है, How many Types of Printer in Hindi में आपको Impact printeri और  Non Impact Printer के बारे में समझ आ चुका होगा अब दोस्तों हमलोग आगे बढ़ते है और History Of Printer In Hindi. Printer का इतिहाश. के बारे में जानते है. तो दोस्तों चलिए शुरू करते है:-

  1. सन 1937 में Charles Babbage के द्वारा पहला Mechanical printer आविस्कर किया गया था. और इस उपयोग उन्होंने Difference engine में output पाने के लिए किया था.
  2. सन 1957 में IBM company के द्वारा पहला Dot Matrix Printer बनाया गया.
  3. सन 1968 में पहला electronic printer का आविस्कर किया गया था. जिसका आविस्कर Epson company के द्वारा किया गया था. जिसका नाम EP-101 था.
  4. 1971 में पहला Laser printer का आविस्कर हुआ था. जो Gray Stark के द्वारा Xerox मशीन को modify करके बनाया गया था.
  5. सन 1972 में पहला Thermal printer का आविस्कर हुआ और इसका उपयोग Portable printer के रूप में किया जाने लगा.
  6. सन 1976 में HP company के द्वारा पहला Inkjet printer बनाया गया था. पर यह ज्यादा popular नहीं हो पाया.
  7. सन 1976 में ही IBM company के द्वारा High speed laser printer को developed किया गया जिसका नाम IBM 3800 था.
  8. सन 1977 में  Inkjet printer को developed किया गया. और 1977 में यह बोहोत ज्यादा popular हो गया था.
  9. सन 1979 में Canon के द्वारा Laser beam printer को invent किया गया.
  10. सन 1992 में पहला 3D printer को developed किया गया और इसके बाद तो अभी के समय में यह 3D printer बोहोत प्रचलित है. 

Final Words 

दोस्तों मेरे को यह आशा है की आप सभी को What is printer in Hindi? Types of Printer In Hindi. Types of Impact Printer In Hindi. Types of Non Impact Printer In Hindi and History Of Printer in Hindi के बारे में अच्छे से समझ आ चूका होगा अगर फिर भी कोई सवाल या सुझाव हो या कोई और दुसरे टॉपिक पे Article चाहिए तो आप Please निचे दिए गए comment section पर comment करे या हमारे official mail ID techreviewpad@gmail.com पे mail कर सकते है.

दोस्तों अगर आपको मेरा article आप सभी को पसंद आया तो please इस article को अपने दोस्तों से share करे और आप ऐसे ही कमाल की knowledge पाना चाहते हो तो मेरे वेबसाइट को subscribe जरुर करे. 

Thank You!!!!!

 

Spread the love

Leave a Comment